How to invest 5000 rupees in share market – 5 हजार से 5 लाख कैसे ?

HOW TO INVEST 5000 RUPEES ?

मार्किट में यह एक आम सवाल है “HOW TO INVEST 5000 RUPEES IN SHARE MARKET” ? दोस्तों बहुत सारे लोग स्टॉक मार्केट में इन्वेस्ट करना तो चाहते हैं लेकिन उनको समझ नहीं आता कि इन्वेस्ट कैसे करें और कहां करें क्योंकि किसी भी आदमी को अपनी मेहनत की कमाई के पैसे को गवाना पसंद नहीं। तो आप लोगों को इस समस्या की समाधान देने वाला हूं। आज इस आर्टिकल में हम स्टेप बाय स्टेप जानेंगे कि आप एक बीकानेर के रूप में सही तरीके से कैसे और कहां इन्वेस्ट करें। एक छोटे से अमाउंट से जैसे ₹500 से भी इस तरह इन्वेस्टिंग शुरू कर सकते हो के एकदम कम रिस्क लोगे और ज्यादा प्रॉफिट कमाओगे। यह जो पोस्ट है काफी हद तक आपकी सारे डाउट को क्लियर कर देगा। साथ ही कुछ ऐसे टिप्स (TIPS) भी देंगे जिससे आप शेयर मार्केट में अच्छे स्टॉक्स में इन्वेस्ट कर सकें।

 

आप जितनी जल्दी इन्वेस्टिंग शुरू करोगे इतना जल्दी आपका कंपाउंडिंग (COMPOUNDING) का फायदा उठा पाओगे और यह आप तभी कर पाओगे जब आप इन्वेस्टिंग सही तरीके से शुरू करोगे। क्योंकि हम जैसे बहुत सारे लोगों के अभिभावक मैं से कोई भी अपनी पूरी जिंदगी में स्टॉक मार्केट में कभी इन्वेस्ट नहीं किया होगा। तो आप में से भी बहुत सारे लोग पहली बार अपनी जिंदगी में खुश से कोई स्टेप ले रहे होंगे शेयर मार्केट में इन्वेस्टिंग (SHARE MARKET MEIN INVESTING) के लिए। अपने फ्यूचर को बेहतर करने के लिए।

OPEN A DEMAT ACCOUNT

दोस्तों सबसे पहले आपको यह करना है कि आपको एक इन्वेस्टिंग अकाउंट खुलवाना (OPEN A INVESTING ACCOUNT) है जिस तरह आपको फिक्स्ड डिपॉजिट के लिए सेविंग अकाउंट खोलना पड़ता है उसी तरह स्टॉक्स में इन्वेस्ट करने के लिए आपको एक डिमैट अकाउंट (DEMAT ACCOUNT) के जरूरत पड़ेगी। बहुत लोग पूछते हैं अगर यह ब्रोकर भाग गया तो हमारे शेयर्स का क्या होगा ? SHARE MARKET MEIN 5000 RUPEES INVEST करने के लिए एक डीमैट अकाउंट तो चाहिए होगा।
तो दोस्तों जब आप स्टॉक खरीदते हो और उसे लॉन्ग टाइम के लिए होल्ड करते हो मतलब आप डिलीवरी ऑप्शन सिलेक्ट (DELIVERY OPTION SELECT) करते हो वह शेयर आपके ब्रोकर के पास नहीं बल्कि एक अलग कंपनी में जाकर जमा होते हैं जिसको हम डिपॉजिटरी (DEPOSITORY) कहते हैं। मतलब यह की एक अलग कंपनी है जहां पूरे इंडिया के जितने भी इन्वेस्टर हैं उनके सारे स्टॉक जमा हैं ऑनलाइन फॉर्म में। और यह कंपनी भाग नहीं सकते ना ही कभी बैंक करप्ट हो सकती है क्योंकि इस पर गवर्नमेंट की नजर होती है।
तो आपको ब्रोकर्स के भाग जाने से उतना फर्क नहीं पड़ेगा। अगर फ्यूचर में आपको डिमैट अकाउंट चेंज कराना हो तो आप अपने शेयर्स को ऑनलाइन ट्रांसफर (STOCKS ONLINE TRANSFER) कर सकते हैं एक डिमैट अकाउंट से दूसरे डिमैट अकाउंट में, जिस तरह हम अपना पैसा ट्रांसफर करते हैं बिल्कुल उसी तरह। कौन सा ब्रोकर चुनना है यह बात लोंग टाइम इन्वेस्टर के लिए इतना जरूरी नहीं है। बहुत सारे लोगों को सवाल रहता है कि कौन सा ब्रोकर्स सही रहता है। मार्केट में बहुत सारे डिस्काउंट ब्रोकर्स अवेलेबल है जैसे आप स्टॉक्स (UPSTOX), एंजल वान (ANGEL ONE), जीरोधा (ZERODHA), ग्रो (GROWW)। इनमें से कोई भी डिस्काउंट ब्रोकर (DISCOUNT BROKER) आप चुन सकते हो।

Leave a Comment