Stock Manipulation क्या होता है ? Operator Stock ko Kaise Manipulate Karte Hai ? 5 Tricks

स्टॉक मार्किट में Stock Manipulation क्या होता है ? और Operator Stock ko Kaise Manipulate Karte Hai ? सभी सवालों के जबाब ढूंढेंगे आज की इस पोस्ट में। स्टॉक मार्किट में इन्वेस्ट करने तो बहुत लोग आते हैं लेकिन कुछ ही लोग होते हैं जो स्टॉक मार्किट से निरंतर पैसा कमाते हैं। बहुत सारे इन्वेस्टर Stock Manipulation का शिकार होते हैं जो की Company Owner या Operator के द्वारा किया जाता है।

Operator Stock ko Kaise Manipulate Karte Hai ?

Stock Manipulation क्या होता है ?

स्टॉक मार्किट में Stock Manipulate का मतलब होता है शेयर या स्टॉक्स के दामों का हेरफेर करना। बड़े बड़े ऑपरेटर्स और कंपनी ओनर Stock मनुपुलेशन को अंजाम देते हैं। ऑपरेटर्स स्टॉक्स के प्राइस को बहुत बड़ा सकते हैं या बहुत निचे तक गिरा सकते हैं।

और यह सब करते हैं झूटी अफवाह फैला कर या फिर पत्रकारों को गलत जानकारी देकर। कभी कभी न्यूज़ चैनल वालो को पैसे देकर झूटी खबरे फ़ैलाने के लिए कहा जाता है। जिससे मार्किट ऊपर या निचे जाये। आखिर में मुनाफे के हक़दार Operators ही होते हैं।

कौन करता है Stock Manipulation ?

कौन करता है Stock Manipulation – इसका आसान जवाब है Operators or Company Owners यही सच है। ऑपरेटर्स कोई छोटे मोटे ब्यक्तित्वा नहीं है, यह बहुत बड़ा एक ग्रुप है जो स्टॉक मार्किट का हल कभी भी पलट सकता है। इनके आगे इन्वेस्टर्स और ट्रेडर्स चाय कम पानी नजर आता है। जब भी चाहे किसी भी तकनीक से या पैसे खर्च करके स्टॉक का भाव ऊपर निचे कर सकता है। और उसके कुछ दिनों बाद ऑपरेटर्स अपना खेल दिखाते हैं।

Also Read : Best Shares for Summer Season 2022 in India ✅| Best Stocks for Summer 2022

Whome to Blame ?

आज हम आपको बताएंगे कि कैसे कुछ स्टॉक मार्केट के चोर स्टॉक मार्केट को मेनू प्लेट करते हैं आप जैसे नॉर्मल इन्वेस्टर्स को स्टॉक मार्केट में कैसे फंसाते हैं। अभी के समय में जब भी मेनूप्लेट की बात होती है तब बहुत सारे सवाल उठते हैं सेबी के ऊपर कैसे यह मैनिपुलेशन हो रहा है? सेबी क्या कर रहा है ? कैसे किसी कंपनी के ऊपर नजर दाढ़ी रख रहा है ?

जब भी किसी इन्वेस्टर्स के साथ गलत होता है तब यह सारे सवाल हमारे मन में उठते हैं और सारा आरोप हम SEBI पर लगा देते हैं। और हमारे जैसा हर एक इन्वेस्टर्स चाहता है कि मार्केट में हुई सभी प्रॉब्लम को SEBI समाधान करें। लेकिन आपको बता दें हमारे जैसे इन्वेस्टर्स का भी कुछ दायित्व रहता है।

हम कम से कम जो आसान तरीके हैं उनको पता करें और आसानी से मार्केट में ठगे नहीं। किसी भी अथॉरिटी को या उसके ऊपर इल्जाम लाना बहुत ही आसान है। लेकिन सच्चाई यह है SEBI में 1000-1100 लोग काम करते हैं। उन सबको 5000 कंपनी को ट्रैक करना है म्यूच्यूअल फंड्स, पीएमएस, इन्वेस्टमेंट एडवाइजर, म्यूच्यूअल फंड्स डिस्ट्रीब्यूटर इन सबको Regulate करना है।

Must Read : Top 10 Dividend Paying Stocks in July 2022 | July Mein Dividend Dene Wale Stocks

What About SEBI ?

हम बहुत समय SEBI की बुराई करते हैं लेकिन यह बात भी सच है कि पिछले 30 सालों में जबसे SEBI आया है लगातार उसने काम किया है की Manipulation कम हो, रिटेल इन्वेस्टर्स के इंटरेस्ट को बचाया जाए। सब कुछ तो सही नहीं हो सकता लेकिन SEBI बहुत ही अच्छे दिशा में जा रही है। शेयर बाजार में अगर कुछ खराबी हो तो हम SEBI के ऊपर आरोप लगाते हैं लेकिन कभी-कभी हम SEBI को धन्यवाद कहना भूल जाते हैं। क्योंकि अगर SEBI आज ना होता तो शेयर मार्केट में Manipulatuon की संख्या बहुत ज्यादा बड़ सकती थी।

Operator Stock ko Kaise Manipulate Karte Hai ?

01. Good News & Bad News : अब सोचो कि मैं एक कंपनी का Owner हूं मेरे पास कंपनी के 40% शेयर हैं और मुझे शेयर होल्डिंग बड़ानी है। मुझे अपने कंपनी में 5% शेयर होल्डिंग और बढ़ाने हैं और कुल मिलाकर 45% शेयर होल्डिंग बनाना है लेकिन अभी के समय बाजार में शेयर का दाम थोड़ा महंगा लग रहे हैं।

Operator stock ko kaise manipulate karte hai 2

तो मैं क्या करूंगा इस परिस्थिति में ? इस समय कंपनी का Owner क्या करता है जितने भी पॉपुलर मीडिया हाउस या जर्नलिज्म या कोई मैगजीन होता है उनमें से किसी एक से कहता है कि हम आपको कुछ रुपए दे रहे हैं, आप हमारे कंपनी के बारे में कुछ गलत खबरें छाप दें।

जैसे कि कंपनी के सीएफओ और सीईओ के बीच अंदर ही अंदर लड़ाई चल रही है और दोनों में से कोई एक रिजाइन देकर कंपनी छोड़ने वाला है। जिससे फ्यूचर में कंपनी के लेकर कुछ संदेह है हो रहा है कि यह कंपनी और ज्यादा डेवलप करेगी या नहीं – ऐसी खबर निकल कर आ रही है जो हमें सूत्रों से पता चला है।

यह फर्जी खबर अगर छप जाए किसी भी न्यूज़पेपर में जिसको ज्यादातर लोग फॉलो करते हैं उस प्लेटफार्म में या किसी टीवी न्यूज़ चैनल में आ जाए तो इससे इन्वेस्टर्स कंपनी में इन्वेस्ट करने से पीछे हटेंगे जिससे कंपनी का शेयर प्राइस नीचे गिर जाएगा। और कंपनी के जो Owner होते हैं उनको इसी बात का इंतजार रहता है कि कब शेयर का प्राइस नीचे गिरे और अपना शेयर होल्डिंग बढ़ाएं।

इस परिस्थिति में कंपनी के Owner कम दाम में शेयर होल्डिंग खरीद लेते हैं । कुछ दिनों बाद कंपनी के तरफ से एक क्लासिफिकेशन जारी किया जाएगा कि सीईओ और सीएफओ के बीच कोई लड़ाई झगड़ा नहीं हो रहा है यह सिर्फ एक अफवाह थी ऐसा कुछ भी नहीं हुआ है। यह पहला जवाब है Operator Stock ko Kaise Manipulate Karte Hai ? इस सवाल के लिए।

How Stock Market Manipulation Works ?

02. Dummy Names :  यह दूसरा तरीका है जिसकी मदद से Operator Stock ko Kaise Manipulate Karte Hai ? सुपर इन्वेस्टर्स को बदनाम करना ऐसे इन्वेस्टर्स जिसको हम फॉलो करते हैं उनके नाम का गलत इस्तेमाल करना। कई साल पहले एक घटना की अगर बात करें तो एक छोटी सी कंपनी जिसके फंडामेंटल बहुत ही ज्यादा खराब है उस कंपनी से संबंधित खबरें टीवी न्यूज़ चैनल में फ्रेंड होने लगा की इस कंपनी के ऊपर राकेश झुनझुनवाला जी ने इन्वेस्ट किया है।

इन्वेस्टर सोचने लगे कंपनी के पैनल वगैरा तो अच्छे दिख नहीं रहे लेकिन राकेश झुनझुनवाला जी ने इस स्टॉक में इन्वेस्ट किया है तो जरूर यह कंपनी आगे जाकर अच्छे रिटर्न दे सकती है। वो कंपनी एक माइक्रो कैप कंपनी थी और इस न्यूज़ के बाद उस Stock में अपर सर्किट लग गया। कुछ दिनों तक स्टॉक लगातार अप्पर सर्किट में रहा।

उसके बाद कंपनी के तरफ से एक क्लेरिफिकेशन आया कि वह यह राकेश झुनझुनवाला नहीं है जो हम सोच रहे थे यह तो किसी और शहर में कोई और राकेश झुनझुनवाला हैं उन्होंने एक पर्सन शेरहोल्डिंग खरीद ली है और मार्केट को लगा कि वह महान इन्वेस्टर राकेश झुनझुनवाला जी वैसा कुछ नहीं है यह तो कोई और ही है।

और अचानक से जितने भी छोटे बड़े इन्वेस्टर से जिन्होंने टीवी न्यूज़ चैनल देखकर इस माइक्रो कैप कंपनी के स्टॉक्स में इन्वेस्ट किया था राकेश झुनझुनवाला जी का नाम देखकर उस स्टॉक में भरोसा जताया था वह ठगा सा महसूस करने लगे। फिर कई दिनों तक उस स्टॉक में लोअर सर्किट लगता रहा। अब आपको मालूम पड़ गया होगा कि – Operator Stock ko Kaise Manipulate Karte Hai ?

Operator Kaise Stock Manipulate Karte Hai ?

03. Name Lending : सबको पता है ज्यादातर इन्वेस्टर्स सुपर इन्वेस्टर्स को देखकर ही मार्केट में निवेश करते हैं। सुपर इन्वेस्टर्स ने जिन जिन स्टॉक्स में इन्वेस्ट क्या है हम लोग भी चाहते हैं उन स्टॉक्स पर इन्वेस्ट करना। और यह बात कंपनी को भी पता है।

कंपनी क्या करती है जो सुपर इन्वेस्टर्स होते हैं वह उनके पास जाते हैं और कहते हैं कि आप मेरे कंपनी के ऊपर इन्वेस्ट करो यार एक प्रश्न या दो पर्सन शेयर होल्डिंग खरीद लो। जबकि कंपनी को पता है कि उसका जो फंडामेंटल है वह बहुत खराब है। इस परिस्थिति में सुपर इन्वेस्टर्स कहता है कि आपकी कंपनी तो अपनी अच्छी नहीं है इसमें हमें इन्वेस्ट क्यों करें।

तब कंपनी सुपर इंडस्ट्रीज को कहते हैं कि आप कुछ ही दिन के लिए 1% शेयर होल्डिंग खरीद लीजिए उसके बाद जब मार्केट में सबको पता चला गया कि आपने हमारी कंपनी के स्टॉक्स में इन्वेस्ट किया है तब कंपनी के शेयर प्राइस बहुत ऊपर जाएगा।

और आखिर में आप अपना जो 1% शेयर होल्डिंग है अब उसे भेज दीजिए और हमारे तरफ से भी कुछ एक्स्ट्रा ग्रुप है आपको दे दिया जाएगा। सुपर इन्वेस्टर्स को देखकर जिन इन्वेस्टर्स ने इस कंपनी में पैसा लगाया था उसको अच्छा खासा लॉस होगा आगे चलकर। क्योंकि कंपनी और ऑपरेटर्स छोटे-मोटे इन्वेस्टर्स का परवाह कभी नहीं करते। Operator Stock ko Kaise Manipulate Karte Hai ? – इस पोस्ट से आपको समझ आ गया होगा।

स्टॉक मार्किट में ऑपरेटर कैसे फंसाते है इन्वेस्टर्स को ?

04. Insights into Insider Information : हम लोग सीधे साधे इंसान हैं किसी भी बात पर बहुत जल्द भरोसा जताने लगते हैं। कोई आकर कहता है कि इस कंपनी को बहुत बड़ा टेंडर मिलने वाला है पक्की खबर है और अंदर की खबर है कुछ ही दिनों में इस कंपनी का रेवेन्यू डबल होने वाला है।

अगर हम सोचे कि एक छोटे इन्वेस्टर्स होकर भी कंपनी के अंदर की खबर हमारे पास आने लगे हैं तो एक बहुत बड़ी बात है। दरअसल यह एक भ्रम होता है जो ऑपरेटर्स या कंपनी वाले इन्वेस्टर्स के बीच फैलाते हैं। इस तरह अंदर की बात के ऊपर निर्भर करके किसी भी स्टॉक पर ट्रेड ना करें इससे आप बड़ी मुसीबत में पढ़ सकते हैं। यह चौथा प्रक्रिया था की – Operator Stock ko Kaise Manipulate Karte Hai ?

How Stock Prices are Manipulated By Operators

05. Pump & Dump Schemes : इसका नाम हमने सुना है लेकिन इसका जो तरीका है वह बदल गया है। किसी स्टाफ के बारे में बहुत बड़ी बड़ी बात कर लो, बड़ी अच्छी कंपनी है, इसमें अच्छी ग्रोथ होने वाली है, बहुत जल्द अच्छी रिटर्न देने वाली है, यह कंपनी पूरे भारत को बदल सकती है ।

अगर आपको ऐसा लगे किसी कंपनी को जिसको पहले से कोई नहीं जानता उसके बारे में अगर अचानक 7- 8 इनफ्लुएंसर्स अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म में प्रमोट कर रहे हैं तो यह एक जाल हो सकता है इन्वेस्टर्स को फसाने के लिए। रिश्ते संभल कर रही है और इन जैसे सोशल मीडिया इनफ्लुएंसर से भी दूर रहने की कोशिश कीजिए। यह तकनीक थी जिससे – Operator Stock ko Kaise Manipulate Karte Hai ?

Can Market Makers Manipulate Stock Prices?

बाजार निर्माता आपके शेयरों को अपने खातों के लिए खरीद सकते हैं और फिर उन्हें व्यक्तिगत लाभ कमाने के लिए घंटों बाद फ्लिप कर सकते हैं। वे ऑर्डर और निष्पादन के बीच के अंतराल में अपने लिए लाभ दर्ज करने के लिए स्टॉक के तेजी से मूल्य में उतार-चढ़ाव का उपयोग कर सकते हैं। वहे सिर्फ अपने मुनाफे की चिंता है। दूसरे इन्वेस्टर्स का क्या हल हो रहा है उन्हें कोई परवाह नहीं है।

बाजार निर्माता दलालों और निवेशकों को यह विश्वास दिलाने के लिए हेरफेर कर सकते हैं कि उन्हें सर्वोत्तम निष्पादन मूल्य मिल रहा है, भले ही वे नहीं हैं। बाजार निर्माता खरीदारों और विक्रेताओं को लुभाने के लिए नकली बोली आकार पोस्ट कर सकते हैं ताकि यह प्रतीत हो सके कि स्टॉक अधिक बढ़ रहा है। एक कवर के रूप में ग्राहक या ब्रोकर ट्रेडों का उपयोग करके Ticket Switch कर सकते हैं और बाजार के आदेश से आगे कूद सकते हैं। इसी तरह से Market Makers Stocks को Manipulate कर सकते हैं।

बड़ी कंपनियां कैसे Stock Market Manipulate करते हैं ?

बड़ी कंपनियां कई तरीकों से बाजार में हेरफेर करती हैं: (i) कभी-कभी, बड़ी कंपनियां छोटी कंपनियों को खरीदती हैं जो समान उत्पाद बनाती हैं ताकि कोई Competition न हो। (ii) जब Competition होती है, तो वे अधिक उपभोक्ताओं को आकर्षित करने के लिए उत्पादों को कम कीमत पर उपलब्ध कराते हैं।

Is stock market manipulation illegal?

Stock Price हेरफेर या Stock Manipulation क्या है? बाजार में हेरफेर एक ऐसा आचरण है जिसे प्रतिभूतियों की कीमत को नियंत्रित या कृत्रिम रूप से प्रभावित करके निवेशकों को धोखा देने के लिए डिज़ाइन किया गया है। 1 अधिकांश मामलों में हेरफेर अवैध है, लेकिन नियामकों और अन्य अधिकारियों के लिए इसका पता लगाना और साबित करना मुश्किल हो सकता है।

Who investigates stock manipulation?

The MIMF Unit सार्वजनिक रूप से कारोबार वाली प्रतिभूतियों से जुड़े मामलों की जांच और अभियोजन में एक राष्ट्रीय नेता है। यूनिट सार्वजनिक रूप से कारोबार करने वाली कंपनियों के साथ-साथ अंदरूनी व्यापार, झूठे बयान, बाजार में हेरफेर, और अन्य योजनाओं में धोखाधड़ी का लेखा-जोखा करने में माहिर है।

1 thought on “Stock Manipulation क्या होता है ? Operator Stock ko Kaise Manipulate Karte Hai ? 5 Tricks”

Leave a Comment